रितु को विदाई देते कैप्टन पीसी जोशी

प्रकाश डिफेंस एकेडमी ने रितु को दिलाई मंजिल, बनी सहायक लेखाकार

उत्तराखण्ड ताजा खबर नैनीताल

अपने उददेश्य पर खरा उतर रही प्रकाश डिफेंस एकेडमी
हल्द्वानी। प्रकाश डिफेंस एकेडमी अपने उद्देश्य पर खरा उतर रही है। यहां आने वाले अधिकांश छात्र सफल होकर अपनी मंजिल पा रहे हैं। अब यहां से कोचिंग ले रही रितु अधिकारी का नाम भी सफल लोगों की सूची में जुड़ गया है। रितु अधिकारी का चयन यूपीसीएल में सहायक लेखाकार पद पर हो गया है। उन्हें मंगलवार को देहरादून में नियुक्ति लेने जाना है। छात्रा के चयन होने से एकेडमी संचालकों में भी खुशी है।
दुर्गा सिटी सेंटर स्थित प्रकाश डिफेंस एकेडमी में डिफेंस के साथ ही सामान्य भर्ती परीक्षाओं की भी तैयारी कराई जाती है। हाल के दिनों में 21 छात्रों का चयन कुमाऊं रेजीमेंट रानीखेत में हुआ है। इधर अब रितु अधिकारी का चयन यूपीसीएल में सहायक लेखाकार के पद पर हो गया है। रितु नंदन सिंह अधिकारी की होनहार पुत्री हैं। नंदन सिंह मूल रूप से असगोली, द्वाराहाट के रहने वाले हैंॅ, मगर अब जगदम्बा नगर में बस गए हैं। उनकी पुत्री करीब दो साल से प्रकाश डिफेंस एकेडमी से कोचिंग कर रही थी। अब उनकी पुत्री का चयन सहायक लेखाकार के पद पर हो गया है। इससे एकेडमी परिसर में भी खुशी का माहौल है।

काफी होनहार छात्रा है रितु: जोशी
एकेडमी के निदेशक रिटायर्ड कैप्टन पीसी जोशी ने खुशी व्यक्त करते हुए बताया कि रितु काफी होनहार छात्रा रही है। एकेडमी मेें सही मार्गदर्शन मिलने के बाद उनका चयन सहायक लेखाकार पद पर हो गया है। कैप्टन जोशी ने बताया कि रितु की तमन्ना भविष्य में प्रशासनिक अधिकारी बनने की है। उन्होंने विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि रितु काफी होनहार है और वह प्रशासनिक अधिकारी बनने के सपने को भी पूरा कर लेगी। उन्होंने बताया कि सफलता पाने के लिए लगातार मेहनत और धैर्य की जरूरत होती है। मेहनत का कोई शार्टकट नहीं होता है। कहा कि एकेडमी में अनुशासन और उचित मार्गदर्शन किया जाता है। इसी का परिणाम है कि लगातार छात्र-छात्राओं का चयन सरकारी नौकरियों में हो रहा है। उन्होंने संस्थान की तरह से भी रितु और उसके परिवार को बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.