सुनीता नेगी की चित्रकारी

पुलिस की नौकरी, पेंसिल से यारी, सुनीता ने अपनी अलग पहचान बना ली

जागरूकता भरे संदेश भी देती है सुनीता नेगी की पेंसिल आर्ट हल्द्वानी। एक दिन में सभी को 24 घंटे का बराबर ही समय मिलता है। अब यह इंसान के ऊपर है कि वह एक दिन में मिले समय को किस तरह व्यतीत करता है। कुछ लोग नौकरी के कुछ घंटे बिताकर ही संतुष्टि का भाव […]

Continue Reading