चीड़ के जंगल

हरियाली को लील रहे चीड़ के जंगल, आखिर इन्हें काटने मेें हर्ज कैसा

चीड़ के पेड़ों पर हल्की सी आग कैरोसिन से भी जल्दी सुलगती है चंद्रशेखर जोशी हल्द्वानी। भाषण देना छोड़ो, धन की बर्बादी की जुर्रत नहीं। असली कारण समझो और उसे दूर करो। …उत्तराखंड का आधे से अधिक भूभाग जंगलों से घिरा है। पहले जंगलों में आग की घटनाएं कम होती थीं। ग्रामीण जंगलों पर निर्भर […]

Continue Reading
आरक्षण की तस्वीर

जब प्रधानमंत्री झाडू पकड़ सकते हैं तो पंडित, ठाकुरों के युवा गटर साफ क्यों नहीं कर सकते

आरक्षण पर टकराव ठीक नहीं, ठाकुर, पंडित भी पकड़े झाडू चंदशेखर जोशी हल्द्वानी। यदि आरक्षण की खिलाफत हो तो सबसे पहले वाल्मीकि और दलित जातियों का सदियों से सफाई में जन्मजात आरक्षण खत्म किया जाए। सफाई कार्य में सवर्णों की भर्ती हो। जब देश के प्रधानमंत्री झाडू पकड़ सकते हैं तो पंडित, ठाकुरों के युवा […]

Continue Reading