logo छोड़कर घर-बार, चोरी करने दिल्ली से कार में हल्द्वानी आता है परिवार

छोड़कर घर-बार, चोरी करने दिल्ली से कार में हल्द्वानी आता है परिवार

न्यूज डायरी

मुरादाबाद में घर होने के बाद भी दिल्ली में किराये के घर में रहते हैं आरोपी
हल्द्वानी। घर मुरादाबाद और रहते हैं किराए के मकान में दिल्ली में। हाई-फाई बनकर कार से हल्द्वानी आते हैं और चोरी करके चले जाते हैं। एक दिन में तीन से चार लोगों को निशाना बनाकर पर्स से नकदी और जेवर चोरी कर लेते हैं। हर चोरी के बाद कार में कपड़े बदल लेते हैं। एक ऐसा ही परिवार पुलिस के हत्थे चढ़ा है। जो शान-शौकत से तो रहता है लेकिन काम करता है चोरी का। हल्द्वानी पुलिस के गिरफ्त में ऐसा ही एक चोर परिवार आया है। पुलिस ने चोरी में संलिप्त बेटा और बहू को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि मां अभी फरार है।

 

दिल्ली से मां-बेटा और बहू लग्जरी कार से चोरी करने आते थे। वह भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों से लोगों के बैग से गहने और पैसे चुराते थे। किसी को शक न हो, इसलिए हाई-फाई बनकर बाजार में घूमते थे। पुलिस ने 10 अप्रैल को बाजार में हुई चोरी के तीनों आरोपी में से बेटा और बहू को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि मां फरार है।
एसआई दिनेश जोशी ने बताया कि पति-पत्नी दोबारा चोरी करने लग्जरी कार से दोबारा हल्द्वानी आए थे। पुलिस ने इन्हें टांडा जंगल के पास से गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से चोरी का सामान भी बरामद कर लिया।

तीनों आरोपी मूल रूप से मुरादाबाद निवासी हैं। इनका मुरादाबाद में मकान है। मुरादाबाद में इनके खिलाफ कई मुकदमे दर्ज हैं। इस कारण ये में रह रहे थे। वहीं से शहर-दर-शहर जाकर चोरी करते थे।

जानकारी के अनुसार, 10 अप्रैल को आनंदपुर ग्राम चांदनी चैक बल्यूटिया निवासी इंद्रा दरम्वाल अपनी बुआ के साथ बाजार में खरीदारी के लिए आई थीं। उन्होंने अपने बैग में पर्स रखा था, जिसमें सोने के झुमके, चांदी की पायल और सात हजार रुपये थे। कालू सिद्ध मंदिर के सामने वाली गली में उन्होंने सामान लेने के बाद पैसे निकालने के लिए बैग में हाथ डाला तो पर्स गायब था। कोतवाली पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज किया था।
पुलिस बहुउद्देशीय भवन में मामले का खुलासा करते हुए सीओ सिटी नितिन लोहनी ने बताया कि सीसीटीवी खंगाले गए तो दो महिलाएं चोरी करती दिखीं। इसके बाद ओके होटल चैराहे से वे ई-रिक्शा में बैठकर गांधी स्कूल के पास खड़ी कार में पहुंचीं। इसके बाद कार एक गली में गई और महिलाओं ने कपड़े बदले और फिर चोरी करने बाजार में निकल गईं। कार नंबर के आधार पर तीनों की पहचान हुई। पुलिस ने टांडा जंगल के पास से मुफ्तीटोला इमली वाली मस्जिद मुरादाबाद उत्तर प्रदेश व हाल निवासी काला महल जामा मस्जिद दिल्ली निवासी वसीम पुत्र बजीर अहमद को उसकी पत्नी आसिया के साथ गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से चोरी के झुमके, पायल और पांच हजार रुपये बरामद किए गए। वसीम की मां अभी फरार है।

Follow us on WhatsApp Channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *