invitaion card हल्द्वानी के रिटायर अफसर की पहल: बेटी के शादी कार्ड में स्वरोजगार की प्रेरणा

हल्द्वानी के रिटायर अफसर की पहल: बेटी के शादी कार्ड में स्वरोजगार की प्रेरणा

उत्तराखण्ड एजुकेशन/कोचिंग जीवन मंत्र ट्रेनिंग ताजा खबर देश/विदेश देहरादून नैनीताल मेरी कलम से युवा योजनाएं रीडर कार्नर लाइफ स्टाइल विविध साक्षात्कार स्वरोजगार

जिस विभाग में 30 साल की नौकरी, उस विभाग की रिटायर होने के बाद भी अप्रत्यक्ष रूप से कर रहे सेवा
कुमाऊं जनसन्देश डेस्क
हल्द्वानी। आपने शादी कार्ड में मेरी बुआ, मेरी मौसी या मेरे चाचा की शादी में जलूल-जलूल आना तो जरूर पढ़ा होगा। मगर हल्द्वानी में रहने वाले एक रिटायर अफसर ने अपनी बिटिया के शादी कार्ड में निमंत्रण कार्यक्रम की सूचना के साथ ही स्वरोजगारपरक योजनाएं भी प्रकाशित कराई हैं। मकसद है बेरोजगारों को स्वरोजगार से जोड़कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाना। कार्ड में स्वरोजगार अपनाने, आत्मनिर्भर बनने, पलायन रोकने के साथ ही उत्तराखंड को समृद्ध बनाने का आहवान किया गया है। 30 साल की सरकारी नौकरी के बाद भी उसी विभाग के हित में निस्वार्थ भाव से सेवा कर योजनाआंे के प्रचार-प्रसार करने की रिटायर अफसर की पहल की लोगों ने सराहना की है।

यह भी पढ़े  रिटायर हुए हैं मगर अभी टायर्ड नहीं हुए हैं उद्योग विभाग के ये पूर्व महाप्रबंधक

 

दरअसल यह अफसर हैं पीलीकोठी, हल्द्वानी के रहने वाले योगेश चन्द्र पांडेय। योगेश पांडेय वर्ष 2019 में जिला उद्योग केन्द्र, हल्द्वानी से बतौर महाप्रबंधक रिटायर हुए हैं। आमतौर पर रिटायर होने के बाद अधिकारी-कर्मचारियों को अपने संबंधित विभाग से संपर्क और उससे जुड़ा कामकाज करते कम ही देखा जाता है। मगर योगेश पांडेय को देखकर लगता ही नहीं है कि वे रिटायर हुए होंगे। रिटायरमेंट के पांच साल बीतने के बाद भी वे उद्योग विभाग से जुड़ी गतिविधियों, प्रशिक्षण कार्यक्रमों में बराबर शिरकत करते रहते हैं। स्वरोजगारपरक प्रशिक्षण कार्यक्रम चाहे विभागीय हों या किसी एनजीओ के माध्यम से संचालित योगेश पांडेय सूचना मिलने भर में ही उस कार्यक्रम में शामिल होकर युवाओं और बेरोजगारों को अपने अनुभव और सरकारी योजनाओं के आधार पर स्वरोजगार के लिए प्रेरित करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ते हैं।

अब उनकी बेटी डा. वर्षा की शादी होनी है। डा. वर्षा गोयनका यूनिवर्सिटी सोहना गुडगांव में बतौर एसोसिएट प्रोफेसर कार्यरत हैं। आगामी 28 अप्रैल को उनकी शादी डा. दीपक से हल्द्वानी में होनी है। बिटिया की शादी में भी पूर्व महाप्रबंधक योगेश पांडेय ने बेरोजगारों को स्वरोजगार के लिए प्रेरित करने का मौका ढूंढ निकाला है। उन्होंने अपनी बेटी के शादी कार्ड में वैवाहिक कार्यक्रमों की पूरी सूचना छपाने के साथ ही उत्तराखंड सरकार से जुड़े विभागों की स्वरोजगारपरक सरकारी योजनाओं की जानकारी प्रकाशित कराई है।

इन योजनाओं में मुख्य रूप से प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुद्रा योजना, स्र्टाअअप योजना, स्टैंड अप योजना, प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना नैनो, महिला विशेष प्रोत्साहन योजना, स्व. वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन रोजगार योजना, दीनदयाल उपाध्याय गृह आवास योजना, राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड, हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास योजनाएं आदि हैं।

बकायदा इन योजनाओं की अधिक जानकारी लेने के लिए वेबसाइड का पता भी प्रकाशित कराया गया है। कुमाऊं जनसन्देश से वार्ता के दौरान पूर्व महाप्रबंधक योगेश चंद्र पांडेय ने बताया कि उन्होंने पहले ही तय किया था कि बिटिया की शादी कार्ड में स्वरोजगारपरक योजनाओं का अपने स्तर से प्रचार कराया जाएगा। बताया कि उन्होंने करीब 30 साल उद्योग विभाग में नौकरी की है। ऐसे में उनका प्रयास रहता है कि जब भी मौका मिले बेरोजगारों को योजनाओं की जानकारी देकर स्वरोजगार के लिए प्रेरित किया जाए। कहा कि वे सूचना मिलने पर अभी भी स्वरोजगारपरक प्रशिक्षणों में नैनीताल जनपद के दूरदराज के इलाकों से लेकर उधमसिंहनगर के विभिन्न ब्लाकों में आयोजित प्रशिक्षणों में पूर्व की तरह ही शिरकत करते हैं। इससे उन्हें काफी सकून मिलता है।

 

Follow us on WhatsApp Channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *