yc pandey

रिटायर हुए हैं मगर अभी टायर्ड नहीं हुए हैं उद्योग विभाग के ये पूर्व महाप्रबंधक

उत्तराखण्ड करियर ट्रेनिंग ताजा खबर देश/विदेश नैनीताल स्वरोजगार

स्वरोजगार को बढ़ावा देना है मकसद, स्वरोजगारियों को करते हैं प्रेरित

स्वरोजगार को बढ़ावा देना है मकसद, स्वरोजगारियों को करते हैं प्रेरित
विनोद पनेरू
हल्द्वानी। कुछ लोग अपने काम, व्यवसाय या नौकरी को जिंदगी भर बोझ समझ कर करते रहते हैं तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो काम को ही शौक या मिशन बना लेते हैं। इस तरह के लोग सामाजिक होने के साथ दूसरों के लिए मददगार भी साबित होते हैं।
करीब एक साल पहले पीलीकोठी, हल्द्वानी निवासी योगेश चन्द्र पांडेय सेवानिवृत्त हो चुके हैं। वे जिला उद्योग केन्द्र हल्द्वानी और रुद्रपुर मेें प्रबंधक के साथ ही महाप्रबंधक की जिम्मेदारी भी निभा चुके हैं। मगर वे अभी भी पहले की तरह से सक्रिय हैं। हालांकि इन दिनों कोरोना महामारी की वजह से सभी काम प्रभावित चल रहे हैं तो वे भी इस संकट से निपटने का इंतजार कर रहे हैं ताकि अपने मिशन में फिर जुटा जा सके।

news yc pandey ji
news yc pandey ji

नौकरी के दौरान सरकारी की योजनाओं के प्रचार के साथ ही स्वरोजगारियों की तो उन्होंने विभाग के कार्य के अनुरूप मदद की ही। अब जब कि वे रिटायर हो चुके हैं और आमतौर पर लोग अपने पद या दायित्व की भी रिटायरमेंट के साथ इतिश्री कर लेते हैं, मगर अभी योगेश चन्द्र पांडेय वे टायर्ड नहीं हुए हैं। वे स्वरोजगार को बढ़ावा देने के मिशन में शिददत से जुटे हुए हैं।
वे नैनीताल और उधमसिंहनगर जिले में जो भी औद्योगिक गतिविधियां होती हैं उनमें बढ़चढ़ कर शिरकत करते हैं। उद्यमिता जागरूकता कार्यक्रमों में प्रतिभाग कर उद्योग विभाग की तमाम स्वरोजगारपरक योजनाओं की जानकारी बेरोजगारों को तो देते ही हैं। साथ ही उन्हें स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित भी करते रहते हैं। करीब तीस साल का विभाग में काम करने का अच्छा अनुभव पूर्व महाप्रबंधक योगेश चन्द्र पांडेय को है। ऐसे में स्वरोजगार को बढ़ावा देने के काम में जुटी तमाम सरकारी संस्थाएं और गैर सरकारी संगठन भी उन्हें अपने कार्यक्रमों में बुलाना नहीं भूलते हैं।
योगेश चन्द्र पांडेय बताते हैं कि घर में खाली बैठने से अच्छा है कि सामाजिक गतिविधियों में शामिल होकर अपने से जो भी अच्छा हो सकता है समाज के लिए किया जाए। बताया कि पिछले एक माह में ही वे कई उद्यमिता जागरूकता कार्यक्रमों में शामिल होकर प्रतिभागियों को स्वरोजगारपरक योजनाओं की जानकारी देने के साथ ही उन्हें प्रोत्साहित भी कर चुके हैं। बताया कि इस तरह के कार्यक्रमों में वे आगे भी शिरकत करते रहेंगे, ताकि जो लोग स्वरोजगार करना चाहते हैं उनका मागदर्शन किया जा सके।

इन दिनों कोराना महामारी की वजह से सभी कामकाज प्रभावित हैं। ऐसे में जैसे ही स्थिति पर काबू पा लिया जाएगा और हालत सामान्य हो जाएंगे तो फिर से स्वरोजगारियों को प्रेरित करने का अभियान शुरू कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.