heliport

हल्द्वानी से मुनस्यारी, पिथौरागढ़, चम्पावत के लिए हेली सेवा शुरू

उत्तराखण्ड टेक्नोलॉजी ट्रेवल ताजा खबर देश/विदेश देहरादून नैनीताल

मुख्यमंत्री धामी ने देहरादून से किया वर्चुअल शुभारम्भ
हल्द्वानी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को मुख्यमंत्री आवास, सभागार में नागरिक उडडयन विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में हल्द्वानी से मुनस्यारी, पिथौरागढ़, चम्पावत के लिए क्षेत्रीय कनेक्टिविटी स्कीम के अंतर्गत संचालित की जा रही हेली सेवा का वर्चुअल रूप से फ्लैग ऑफ कर शुभारम्भ किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का हार्दिक आभार व्यक्त करते हुये कहा कि इस हवाई सेवा की लम्बे समय से प्रतीक्षा थी। उन्होंने कहा कि स दूरस्थ क्षेत्रों को परस्पर जोड़ने और लोगों को आवागमन हेतु सुविधा प्रदान करने में सक्षम तो होगी ही, साथ ही आपात समय में राहत और बचाव कार्यों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए एक प्रभावी माध्यम भी साबित होगी। उन्होंने कहा कि इससे विभिन्न पर्यटन क्षेत्रों के दर्शन होने के साथ ही लोगों को आवागमन में भी काफी सुविधा होगी।

 

मुख्यमंत्री ने कोरोना काल का जिक्र करते हुए कहा कि कोरोना काल में जो बाहर चले गये थे, वे अब अपने गाँव वापस आ रहे हैं। इस तरह यह सिर्फ हवाई सेवा नहीं, बल्कि रिवर्स पलायन का मार्ग भी है। यही वह मार्ग है, जो हमारे पहाड़ों के घरों को पुनः आबाद करेगा तथा गाँव में रौनक लौटाएगा।

मुख्यमंत्री ने जोलीग्रांट एयरपोर्ट का उल्लेख करते हुए कहा कि हमने कुछ दिन पूर्व ही जोलीग्रांट एयरपोर्ट के नए टर्मिनल का शुभारंभ किया है तथा शीघ्र ही अब जोलीग्रांट एयरपोर्ट से पायलट प्रोजेक्ट के आधार पर देहरादून-अमृतसर, देहरादून-पंतनगर, देहरादून-अयोध्या रूट्स पर भी एयर कनेक्टिविटी शुरू की जाएगी। यही नहीं ,हम आगामी समय में त्रिजुगीनारायण, लैंसडाउन आदि स्थानों के लिए भी हेली सेवा की शुरूआत करने वाले हैं। उन्होंने कहा कि इससे जहां एक ओर पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा, वहीं दूसरी ओर रोजगार के नए अवसर भी बढ़ेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जहां हम जौलीग्रांट एयरपोर्ट को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बना रहे हैं, वहीं पंतनगर एयरपोर्ट को भी अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के रूप में विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसके साथ ही प्रदेश के रमणिक क्षेत्रों का हवाई माध्यम से दर्शन करने हेतु “जॉय राइड सेवा“, “हिमालयन दर्शन“ आदि सेवाएं भी प्रस्तावित हैं तथा इन सेवाओं के प्रारंभ होने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।

हैरिटेज एविएशन की हवाई सेवा (07 सीटर) प्रतिदिन हल्द्वानी से चंपावत, पिथौरागढ़ और मुनस्यारी के लिए दो-दो उड़ने भरेगी, जिसका हल्द्वानी से चंपावत, हल्द्वानी से पिथौरागढ़ और पिथौरागढ़ से मुनस्यारी का किराया क्रमशरू 2500, 3000 और 3500 रुपये होगा।

कार्यक्रम को रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री श्री अजय भट्ट ने दिल्ली से वर्चुअल रूप में सम्बोधित करते हुए कहा कि क्षेत्रीय पर्यटन व हवाई संपर्क को बढ़ावा देने के लिये उड़ान योजना (उड़े देश का हर नागरिक) के तहत हवाई सेवा शुरू की गयी थी। इस सेवा से पर्यटन, शिक्षा, स्वास्थ्य आदि को काफी लाभ प्राप्त होगा। उन्होंने यह भी बताया कि पिथौरागढ़ व चम्पावत के विकास के लिए केंद्र ने 140 करोड़ रूपये की स्वीकृति प्रदान की है। उन्होंने कहा कि जो भी योजना भेजी जाएगी, उसे शत प्रतिशत स्वीकृति प्रदान की जाएगी।

विधायक लालकुआं डा. मोहन सिंह बिष्ट ने अपने सम्बोधन में कहा कि इस हेली सेवा का निश्चित रूप से पहाड़ के लोगों को लाभ होगा। यह हेली सेवा पहाड़ की जनता के लिए हेली यात्रा ही नहीं अपितु जीवनदायिनी साबित होगी। इस हेली सेवा के शुभारंभ से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा, जिसके माध्यम से यहां की जनता को रोजगार के अवसर भी प्राप्त होंगे।
इस अवसर पर जिला अध्यक्ष भाजपा प्रताप बिष्ट, जिला पंचायत अध्यक्ष बेला तोलिया, निवर्तमान मेयर डॉ. जोगिंदर पाल, डा. मुकेश बेलवाल,उपजिलाधिकारी सदर पारितोष वर्मा, तहसीलदार हल्द्वानी सचिन कुमार व हैरिटेज एविएशन के सीईओ रोहित माथुर, जनरल मैनेजर मनीष भंडारी, पायलट कैप्टन प्रताप, मनीष कुमार, इंजीनियर कुंदन कुमार सहित सम्बंधित पदाधिकारी, स्थानीय जनता और अधिकारी उपस्थित थे।

Follow us on WhatsApp Channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *