डीएम एसएन पांडेय

डीएम ने प्रधानों को कुमाऊंनी में लिखी चिटठी, कहा, प्रधान ज्यू, ये चिटठी में कयैकि बात बड़ि जरूरी छन, सावधान और सतर्क रून जरुरी छ, आप भी पढेें

उत्तराखण्ड चम्पावत ताजा खबर देश/विदेश

कोरोना वायरस के प्रकोप, खतरे को लेकर किया आगाह, गांवों में जागरूकता व सजगकता का परिचय देने की अपील
विनोद पनेरू
चम्पावत/हल्द्वानी। खतरनाक कोरोना वायरस से हर कोई भयभीत है और सभी लोग स्वयं सजग रहते हुए आसपास के लोगों को भी जागरूक करने में जुटे हुए हैं। प्रशासनिक अमला भी मुस्तैदी के साथ काम कर रहा है। मगर अभी भी तमाम लोग इस वायरस को हल्के में ही ले रहे हैं। वहीं बड़ी संख्या में प्रवासियों के गांव लौटने से गांवों में भी खतरा बढ़ गया है। साथ ही ग्राम प्रधानों पर भी बाहर से आए लोगों को गांवों में क्वारंटाइन (एकांतवास) करने और सजगता और जागरूकता की जिम्मेदारी बढ़ गई है।
ऐसे में चम्पावत जिले के जिलाधिकारी आइएएस सुरेंद्र नारायण पांडे ने जिले के प्रधानों को कुमाऊंनी भाषा में चिटठी भेजकर कोरोना वायरस कोविड-19 के प्रकोप, इसके खतरे व परिणाम, बचाव व गांवों में जागरूकता व सजगकता व अपने कुशल नेतृत्व का परिचय देते हुए इस बीमारी को गांव में फैलने से रोकने में मददगार बनने का आह्वान किया है।

आप भी पढें डीएम आइएएस सुरेंद्र नारायण पांडे की चिटठी हुबहू-
मा प्रधान ज्यू
आपूंके, यो बात भलि के पत्त छ कि पुरि दुन्य में कोरोना वायरस (कोविड-19) प्रकोप चलि रौ। यो महामारि हुनक वीले हमर जिल में लगै दिनांक 23.03.2020 बढे लॉकडाउन चलि रौ। आब दिनांक 03.05.2020 के बाद हमर जिलक निवासि देशक विभिन्न परदेशों बढ़ै वापस आपन घरों के ऊन्यान। कोरोना वायरस संक्रमण बढे बचनेक थें, यो जरूरी छ कि यस मान्सों के घर-परिवार और गौ वाल है स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार बक मिल्या निर्देशोंक अनुसार कुछ दिन अलग राखि जी, अगर भ्यार बठे आयक मान्सों खन् अलग न रखी जाल त, यो बिमारी द्वसरा के लगे सरि संकछि।
देशक द्वसर परदेशों बठे आपन् गौ में ऊन्य मान्स आपने दाद-भव छन। लॉक डाउनक खातिर इन सब बढ़ कष्ट में छन। घर वापस आयुक आपन दाद-भव्वा कि आतिथ्य में कई कमी न हो, यो लगे हमर परम धर्म भयो। उनूं खन् क्वै लगे दुःख तकलीफ न हुँन है । उन आपन् घे तुऊन्यान।
ये बिमारि है बचनेकि थें भ्यार बढै आयक गौ वाला खन वी गाँ क घरध्विद्यालयध्पंचायत घरध्अन्य सामुदायिक जाग में अलग (कोरेन्टीन) राख्न के थे आपकी नेतृत्व कि जरूरत छ। आशा-आगनवाड़ी कार्यकर्ती, महिला-युवक मंगल दल सदस्य इन भ्यार बढे आयक मान्सों खन् ये बिमारी बढे बचूँने कि थे मास्क, सैनिटाईजर लगन और गाँवाला है दूरी राख्ने कि थे जागरूक करला। घर/विद्यालय/पंचायतघर/अन्य सामुदायिक जाग में रून्य इन मान्सों की सूचना रोज कन्ट्रोल रूम फोन नम्बर-7895318895 क अलावा न्याय पंचायत/ग्राम पंचायतक नोडल अधिकारी के बतूंन जरुरी छ।
बख्त् कै लगे हो, कटि जांछ। यो बख्तू लगे कटि जालो। नय रत्तै होलि। नय उज्यालो होलो। समृद्धि-प्रगति वालि नय रत्तै होलि। आ. हमसब मिलि बेर सहयोगे कि नई इबारत लेखन, जै में हमर सब दाद्-भव लगे शामिल हवल।
हमर इन दाद-भव्व अन्य परदेशों बढते तकनिकी, व्यवहारिक ज्ञान और अनुभव लि बैर ए रयान। आ, किले न हम सब आप दाद-भव्वा पछेट बैठि बैर ऊँनूक अनभवाक लाभ उठे बैर आपन गौ कि समृद्धि की योजना बनून और वी में काम करि बैर अग्धा के बनू।
याद रख्या कि तुमर गाँव में भ्यार बठे आयाक, इन गाँ वाल यदि अलग (कोरन्टीन) रून्य आदेशक पालन न करल तु, यस मान्सों द्वारा गो, समाज, जिल खन् बड़ नुकसान है सकुछ। ये कि थें सावधान और सतर्क रून जरुरी छ।

ये चिट्ठी में कयैकि बात बड़ि जरूरि छन। आपो सब्बै जनों थे यो आश छ कि ये महामारि की घड़ि में सरकार पुर सहयोग करला। विनति के साथ
धन्यवाद
आपूंक आपन सुरेंद्र नारायण पांडे, जिलाधिकारी, चम्पावत

डीएम के पत्र की प्रति
डीएम के पत्र की प्रति

Leave a Reply

Your email address will not be published.