जायजा लेते डीएम व एसएसपी

रोडवेज की 90 बसों से पहाड़ भेंजे जाएंगे बाहर से आने वाले लोग

उत्तराखण्ड ताजा खबर नैनीताल स्थानीय

डीएम बंसल व एसएसपी मीणा ने लिया गौलापार में व्यवस्थाओं का जायजा
हल्द्वानी। देश के विभिन्न प्रान्तों से कुमाऊं के विभिन्न जनपदों के प्रवासियों का आगमन प्रारम्भ हो गया है। ऐसे बाहर के प्रान्तों से आने वाले लोगों को स्टेटिंग एरिया अंतर्राष्ट्रीय स्पोट्र्स स्टेडियम गौलापार मंे लाया जा रहा है जहां पर उनकी स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा प्राथमिक स्कैनिंग के साथ ही स्वास्थ्य परीक्षण भी किया जा रहा है। सोमवार को जिलाधिकारी सविन बंसल ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार मीणा, मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार के साथ स्टेटिंग एरिया गौलापार जाकर प्रशासनिक व्यवस्थाओं का जायजा लिया।
निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी बंसल ने तैनात जोनल सैक्टर मजिस्टेªटों को निर्देश दिये कि लाकडाउन के दौरान बाहर से आने वाले लोगों कोे भोजन,पेयजल, शौचालय आदि के साथ बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध कराई जांए। उन्होंने कहा कि व्यवस्थाआंे मे लगाये गये सभी लाइन डिपार्टमैन्ट के अधिकारी स्टेजिंग एरिया स्टेडियम गौलापार में अनिवार्य रूप से तैनात रहेंगे। उन्होेंने कहा कि यात्रियों के मध्य सोशल डिस्टेंिसंग प्रोटोकाल का अनुपालन के साथ ही यदि किसी यात्री के पास मास्क नहीं है तो उन्हें स्वास्थ्य परीक्षण काउन्टर से मास्क भी उपलब्ध कराया जाए।
निरीक्षण के दौरान जानकारी देते मुख्य विकास अधिकारी-स्टेजिंग एरिया चीफ विनीत कुमार ने बताया कि देहरादून से पिथौरागढ, बागेश्वर, अल्मोडा के 62 यात्री स्टेजिंग एरिया मे बसों द्वारा प्रातः पहुचें जिनकी स्कैनिंग के साथ ही स्वास्थ्य परीक्षण किया गया उसके उपरान्त उनको अल्प आहार कराने के बाद परिवहन निगम की बसों द्वारा गन्तव्य को भेजा गया। उन्होने बताया कि सोमवार को उत्तर प्रदेश से जनपद नैनीताल के 121, अल्मोडा के 746, पिथौरागढ़ के 120 व बागेश्वर के 176 यात्री आनेवाले है, जिनकी स्कैनिंग एवं स्वास्थ्य परीक्षण के बाद उनके गन्तव्य को भेजा जायेगा। यात्रियों को भेजने के लिए परिवहन निगम की 90 बसों की व्यवस्था की गई है।
निरीक्षण के दौरान सम्भागीय परिवहन अधिकारी राजीव मेहरा, अधीक्षण अभियन्ता लोनिवि रणजीत सिह रावत, सिटी मजिस्टेªट प्रत्यूष सिंह, उपजिलाधिकारी अनुराग आर्य, आरएम रोडवेज यशपाल सिह, अधिशासी अभियन्ता लोनिवि एचएस रावत, जल संस्थान विशाल सक्सेना, परियोजना प्रबन्धक पेयजल निर्माण निगम मृदुला सिंह आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.