कार्यक्रम के दौरान मंचासीन सहायक निदेशक और अन्य अधिकारी

लोकल प्रोडक्ट की ग्लोबल मार्केट में पैठ जमाने के बताए टिप्स

उत्तराखण्ड कारोबार ट्रेनिंग ताजा खबर देश/विदेश नैनीताल योजनाएं

जिला उद्योग केन्द्र परिसर में एक्सपोर्टस कान्क्लेव सम्मेलन का हुआ आयोजन
कुमाऊं जनसन्देश, हल्द्वानी।
विदेश व्यापार, भारत सरकार के सहायक महानिदेशक आरसी शर्मा ने जिले के निर्यातकों को लोकल उत्पाद की ग्लोबल मार्केट में पैठ बनाने के टिप्स बताए। कहा कि देवभूमि उत्तराखंड में तमाम प्राकृतिक, जैविक, खाद्य प्रसंस्करण, हस्तशिल्प, जड़ी बूटी और आयुर्वेदिक उत्पाद तैयार करने की असीम संभावनाएं हैं। इन उत्पादों की बेहतर ब्रांडिंग कर राष्ट्रीय के अलावा अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में मजबूत पकड़ बनाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के मशहूर स्थानों के नाम के आधार पर उत्पादों के नाम रखकर बेहतर दाम और अच्छा नाम भी कमाया जा सकता है।
विदेश व्यापार, भारत सरकार के सहायक महानिदेशक आरसी शर्मा शुक्रवार को सूक्ष्म, लघुएवं मध्यम उद्यम संस्थान परिसर हल्द्वानी में आयोजित एक्सपोटर्स कान्क्लेव में जिले के एक्सपोर्टर उद्यमियों को सम्बोघित कर रहे थे। यह सम्मेलन प्रधानमंत्री नरेन्द्र की पहल पर पूरे देश मंे मनाये जा रहे आजादी का अमृत महोत्सव तथा वाणिज्यिक सप्ताह के तहत देश के हर जनपद में स्थानीय निर्यात को बढावा दिये जाने के उददेश्य से आयोजित किया गया था।
कार्यक्रम में जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक उद्योग विपिन कुमार ने बताया कि एक दिवसीय सम्मेलन का मुख्य उददेश्य स्थानीय निर्यात को बढावा देना तथा जनपद स्तर पर निर्यात के लिए उद्यमियों को प्रोत्साहित किया जाना है ताकि भारत सरकार के दिशा निर्देशों के अनुरूप देश की अर्थव्यवस्था को और गति प्रदान किये जाने के साथ ही अधिक से अधिक रोजगार सृजन कर लोगों को रोजगार से जोड़ा जा सके।
अपने सम्बोधन में हिमालय चैम्बर्स के सचिव मनोज डांगा ने कहा कि जनपद स्तर पर ऐसा कोई माध्यम नहीं है जिससे कि तहत स्थानीय उद्यमी अपना प्रोडक्ट एक्पोर्ट कर सके तथा अपने प्रोडक्ट की पहचान बना कर विदेशों मे निर्यात कर सके, ऐसा होता है तो जनपद के अधिक से अधिक उद्यमी अपने उत्पादों को निर्यात कर सकते हैं।
कार्यक्रम मंे सहायक महानिदेशक भारत सरकार विदेश व्यापार आरसी शर्मा ने बताया कि आज पूरा देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। प्रधानमंत्री की मंशा के अनुरूप वाणिज्यिक सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है। उन्हांेने कहा कि भारत सरकार का विजन है कि देश के प्रत्येक जनपद में जनपद स्तर पर स्थानीय निर्यातकों को प्रोत्साहित कर निर्यात को अधिक से अधिक बढावा दिये जाने के लिए अनेकों योजनाये चालू की गई है। जिसमे उद्यमी आसानी से अपने उत्पाद के निर्यात के लिए पंजीकरण करा सकता है तथा निर्यात से सम्बन्धित विभिन्न योजनाओं की विस्तृत जानकारी विभागीय बेबसाइट www.dgft.gov.in  पर प्राप्त कर सकते हैं।
कार्यक्रम में हिमालय चैम्बर्स आफ कामर्स के पूर्व अध्यक्ष बीके लाहोटी, क्षेत्रीय प्रबन्धक ग्रामीण बैक महिपाल सिह, बैक ऑफ बडौदा के विपिन आर्य, डीजीएम सेंचुरी पेपर मिल एचसी जोशी, विरेन्द्र यादव, जिला उद्योग प्रबन्धक सुनील पंत, ओपी भटट, सहायक प्रबन्धक सुभाष चन्द्रा के साथ ही अधिकारी, निर्यातक उद्यमीगण एवं उद्यमी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.