बैठक करते डीएम बंसल

कैरियर के लिए गरीब मेधावी छात्राएं न हों परेशान, डीएम बंसल करेंगे समाधान

उत्तराखण्ड एजुकेशन/कोचिंग करियर ताजा खबर नैनीताल

सीडीओ भंडारी के निर्देशन में बनेगा छात्राओं के लिए सहायता पोर्टल
कुमाऊं जनसन्देश डेस्क
भीमताल। नैनीताल जनपद की मेधावी गरीब छात्राओं को पढ़ाई जारी रखने के लिए किसी भी तरह परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। छात्राएं किस क्षेत्र में कैरियर बनाएं या पढ़ाई के लिए आर्थिक संकट से किस तरह निजात पाएं इसके लिए जिले के मुखिया जिलाधिकारी सविन बंसल बेहद चिंतित और संवेदनशील हैं। गरीब मेधावी छात्राओं को नौकरी और स्वरोजगारपरक पाठयक्रमों की जानकारी के साथ ही इच्छित पाठयक्रम की पढ़ाई पूरी करने के लिए जिला प्रशासन हरसंभव मदद करेगा। अगर किसी बेटी के परिजनों के पास आर्थिक संकट है तो उसका समाधान भी जिलाधिकारी सविन बंसल करेंगे। बेटियों को पढ़ाई के लिए हर संभव मदद के लिए जिलाधिकारी बंसल ने मुख्य विकास अधिकारी आईएएस नरेन्द्र सिंह भंडारी के निर्देशन में एक पोर्टल बनाने के निर्देश दिए हैं।
मंगलवार को जिलाधिकारी सविन बंसल ने विकास भवन सभागार में वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की गहनता से समीक्षा की। समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी बंसल ने निर्देश दिए कि बेटियों के लिए आगे बढ़ने का मार्ग प्रशस्त किया जाये। किसी भी होनहार बेटी के मार्ग में जानकारी का अभाव बाधा न बने, इसके लिए जनपद में विशेष कैरियर काउंसिलिंग की जाये तथा बेटियों को विभिन्न प्रकार की नौकरियों एवं प्रोफेशनल कोर्स के बारे में भी जागरूक किया जाये। उन्होंने गरीब बालिकाओं की पढ़ाई एवं जाॅब के लिए फार्म भरवाने के लिए बाल विकास तथा सेवायोजन विभाग के अधिकारियों को आपसी तालमेल से कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि बालिकाओं को स्वास्थ्य सेवाओं, डिफेंस सर्विसेज, एनीमेशन, फाइन आर्ट, कम्प्यूटर कोर्स सहित विभिन्न कोर्सों के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाये तथा उनकी रुचि के अनुसार उनके फार्म भी भरवाने में सहयोग प्रदान किया जाये।
उन्होंने निर्देश दिए कि बालिकाओ को डिफेंस सर्विसेज की संभावनाओं के बारे में तथा कोचिंग के विषय में जानकारी दी जाये। उन्होंने कहा कि आवश्यकता पड़ने पर प्रसार प्रशिक्षण केन्द्र बागजाला का उपयोग बालिकाओं के हाॅस्टल के रूप में भी किया जायेगा। उन्होंने निर्देश दिए कि नौकरी तथा शिक्षा के लिए फार्म भरने में असक्षम बालिकाओं के फार्म भरवाये जाये तथा फार्म भरने तथा एक्जाम में आने जाने का खर्च प्रशासन द्वारा वहन किया जाये।
बंसल ने कहा कि पढ़ाई में रुचि रखने वाली मेधावी बालिकाओं को उनकी आगे की पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद उपलब्ध करायी जायेगी। उन्होंने गरीब बालिकाओं को आसानी से शिक्षा मुहैया कराने में मदद के लिए जनपद का पोर्टल सीडीओ नरेन्द्र सिंह भण्डारी के निर्देशन में बनाने के निर्देश दिए, जिसमें बालिकाएं पढ़ाई के लिए आर्थिक सहायता के लिए आसानी से आवेदन कर सकें। उन्होंने कहा कि बालिकाओं की आर्थिक सहायता के लिए सीडीपीओ के माध्यम से सत्यापन कराया जायेगा।
उन्होंने बालिकाओं की कैरियर काउंसिलिंग के लिए सीडीपीओ रामनगर को, कम्प्यूटर प्रशिक्षण के लिए सीडीपीओ ओखलकाण्डा, वाॅल पेंटिंग के लिए सीडीपीओ हल्द्वानी को नोडल अधिकारी नामित किया।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी नरेन्द्र सिंह भण्डारी, एसीएमओ डा.टीके टम्टा, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक हीरालाल गौतम, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.