मृतक की फाइल फोटो

जीएसटी और नोटबंदी से परेशान होकर जहर खाने वाले व्यवसायी की मौत

उत्तराखण्ड ताजा खबर स्थानीय

देहरादून। जीएसटी और नोटबंदी से परेशान बताकर जहर खाने वाले व्यवसायी को नहीं बचाया जा सका। बेहतर उपचार देने के बाद भी उसने देहरादून के अस्पताल में दम तोड़ दिया है। बता दें कि बीती शनिवार को देहरादून में भाजपा कार्यालय में कृषि मंत्री सुबोध उनियाल के जनता दरबार के दौरान हल्द्वानी के ट्रांसपोर्ट व्यवसायी प्रकाश पांडेय ने जीएसटी और नोटबंदी के चलते हो रही परेशानी जनता दरबार में रखी और अपनी समस्या जताई थी। साथ ही यह भी बताया था कि वह बहुत परेशान हो चुका है और जहर खाकर आया है। इसके बाद वह अचेत होकर गिर गया था। इस पर उसे तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया। बेहतर उपचार देने के बाद भी उसे नहीं बचाया जा सका और उसने मंगलवार को दम तोड़ दिया है।
वहीं पांडेय केे निधन पर सीएम ने शोक व्यक्त किया है। इधर व्यवसायी की मौत से हर कोई हैरान है।

व्यापारी संगठनों की चुप्पी खतरनाक
देहरादून। ट्रांसपोर्ट व्यवसायी प्रकाश पांडे ने तीन दिन पहले जहर खा लिया। उनकी हालत तो गंभीर थी ही, उनके उठाए सवाल भी बेहद गंभीर थे। सरकार की नई आर्थिक नीतियों से किस कदर एक व्यापारी परेशान होकर जान देने पर तुल गया, यह हर व्यापारी को सोचना चाहिए। लेकिन तीन दिन बाद भी व्यापारी संगठनों की चुप्पी खतरनाक है। इसके संकेत मिलने लगे हैं, यह समस्या अन्य लोगों के सामने भी आने वाली है। यदि नीतियों का तार्किक विरोध नहीं किया गया तो जल्द ही छोटे व्यवसायी बुरी तरह से प्रभावित होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.