ऐपण से सजे दीये

ऐपण कला के रंगों में नजर आएंगे इस बार दीपावली के दीये

उत्तराखण्ड ऐपण कला ट्रेनिंग ताजा खबर देश/विदेश नैनीताल संस्कृति हस्तशिल्प हुनर

महिलाएं और युवतियां परम्परागत दीये को दे रही हैं आकर्षक रूप
विनोद पनेरू
हल्द्वानी। इस दीपावली आप ऐपण कला के रंगों से तैयार दीये घर की चैखट पर सजा सकेंगे। जब ऐपण कला के रंगों से सजे दीये जगमगाएंगे तो नजारा बहुत ही मनमोहक होगा। दीये की लौ के साथ दीये का पूरा स्वरूप बेहद खूबसूरत नजर आएगा। इस तरह के आकर्षक दीये तैयार करने में हल्द्वानी की तमाम महिलाएं और युवतियां जुटी हुई हैं।
दरअसल जिलाधिकारी सविन बंसल के निर्देशन में जिला उद्योग केन्द्र हल्द्वानी के महाप्रबंधक विपिन कुमार कांबोज के मार्गदर्शन में निर्मला सोशल रिसर्च एंड डवलपमेंट सोसाइटी के निदेशक संजीव भटनागर, सह निदेशक नेहा भटनाग की ओर से 25 महिलाओं व युवतियों को बीते तीन सितंबर से ऐपण कला का प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है। ताकि महिलाएं स्वरोजगार अपनाकर आत्मनिर्भर बन सकें। डीएम बंसल का विशेष फोकस है कि अधिक से अधिक उत्पादों को ऐपण कला से सजाया जाए जिससे कि कुमाऊंनी संस्कृति को बढ़ावा मिल सके। महिलाओं की अधिक से अधिक आय हो सके, इसके लिए दीये, दीवार घड़ी, चादर, सजावटी वस्तुओं में ऐपण आधारित डिजाइन तैयार कराई जा रही हैं। सजावटी वस्तुओं को ऐपण कला से आकर्षक बनाकर देश-विदेश तक बिक्री के लिए उपलब्ध कराया जाएगा।
रुचिकर पूर्वक प्रशिक्षण ले रही महिलाओं ने रोशनी के पर्व दीपावली को देखते हुए परम्परागत दीयों को ऐपण कला के रंगों से रंगना शुरू कर दिया है। ऐपण कला के रंगों से तैयार ये दीये बहुत ही आकर्षक नजर आ रहे हैं। जब ये जगमगाएंगे तो नजारा कितना आकर्षक व भव्य होगा सहज ही कल्पना की जा सकती है। प्रशिक्षण ले रही महिलाओं ने बताया कि वे इन दिनों दीये के अलावा दीवार घड़ी, पानी बोतल का बैग, पूजा की थाल, प्लेट आदि उत्पादों को ऐपण कला के रंगों से आकर्षक बनाने में जुटी हुई हैं। जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक विपिन कुमार ने बताया कि ऐपण कला से कुमाऊंनी संस्कृति का प्रचार-प्रसार तो होगा ही साथ ही महिलाओं व युवतियों को आर्थिक मदद भी मिल सकेगी। वहीं निर्मला सोशल रिसर्च सोसाइटी के निदेशक संजीव भटनागर ने बताया कि संस्था स्वरोजगार को बढ़ावा देने का प्रयास कर रही है। इधर, जिला उद्योग केन्द्र के पूर्व महाप्रबंधक योगेश चन्द्र पांडेय ने भी प्रशिक्षण स्थल में पहुंचकर प्रशिक्षणार्थियों की हौसला अफजाई की। साथ ही उन्हें स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने लोगों से भी स्थानीय स्तर पर तैयार किए जा रहे उत्पादों को खरीद कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वोकल फोर लोकल मुहिम को सार्थक बनाने की अपील की है।

अगर आप इन उत्पादों को खरीदना चाहते हैं या प्रशिक्षण संबंधी जानकारी लेना चाहते हैं तो संस्था के निदेशक संजीव भटनागर से 9412129783 पर सीधे संपर्क कर सकते हैं।

ऐपण से सजे दीये
ऐपण से सजे दीये
उत्पाद देखते पूर्व महाप्रबंधक पांडेय
दीयों को आकर्षक बनाती महिलाएं
ऐपण से सजे दीये

Leave a Reply

Your email address will not be published.