बैठक लेते कमिश्नर अरविंद हयांकी

49 नवनिर्मित मार्गों पर वाहनों के संचालन की अनुमति, बढ़ेंगे रोजगार के अवसर

उत्तराखण्ड ताजा खबर नैनीताल

आटो परमिट का भी बढ़ाया दायरा, संभागीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक में लिए गए कई महत्वपूर्ण निर्णय
कुमाऊं जनसन्देश डेस्क
नैनीताल। संभागीय परिवहन प्राधिकरण क्षेत्र की नव निर्मित सड़कों पर वाहनों के संचालन के लिए प्राथमिकता से जाॅच-परीक्षण करना सुनिश्चित करें। यह निर्देश मण्डलायुक्त एवं अध्यक्ष संभागीय परिवहन प्राधिकरण अरविन्द सिंह ह्यांकी ने डीडीए सभागार में आयोजित आरटीए बैठक की अध्यक्षता करते हुए परिवहन विभाग के अधिकारियों को दिये।
कमिश्नर ह्यांकी ने निर्देशित करते हुए कहा कि लोगो की यात्रा को सरल व सुगम बनाने के साथ ही व्यक्तियों को रोजगार से जोड़ना प्राथमिकताओं में शामिल है। इसलिए नव निर्मित सड़कों पर वाहन संचालन के लिए प्राथमिकता से नवनिर्मित सड़कों का परीक्षण करना सुनिश्चित करें। यदि किसी नवनिर्मित सड़क में किसी भी प्रकार की तकनीकी दिक्कत आती है तो सम्बन्धित विभाग से उसका समाधान तुरन्त कराना सुनिश्चित करें।
समिति ने प्राधिकरण क्षेत्र के 49 नवनिर्मित मार्गों पर वाहनों के संचालन तिलियापुर - बसनगर - गुरूग्राम - देवनगर - टैगोरनगर - बैकुण्ठपुर - गोविन्दनगर होते हुए पिपलिया चैराहे से किच्छा मार्ग पर यात्रियों की सुविधा के लिए 28 टाटा मैजिक वाहनों के संचालन, काशीपुर हल्द्वानी रूट पर परिवहन विभाग की दो और बसों के संचालन, हल्द्वानी संभाग के मैदानी क्षेत्रों में स्थित नगर पालिकाओं एवं नगर निकायों के अन्तर्गत ऐसे रूट (सड़कें) जिन पर रूट परमिट नहीं हैं, उन निकायों में संचालित आॅटो परमिट का दायरा बढ़ाकर 16 किमी त्रिज्या में संचालन करने का अनुमोदन किया।
ह्यांकी ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि संभागीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक प्रत्येक दो माह में की जाए। समति ने रामनगर से काॅर्बेट नेशनल पार्क के लिए जिप्सी संचालन के लिए प्राप्त आवेदन पत्रों में से पार्क प्रशासन की मांग एवं आवश्यकता के अनुरूप 75 नए वाहनों के परमिट स्वीकृति, कालाढुंगी, पवलगढ़, सीतावनी एवं काॅर्बेट लैण्ड स्केप के लिए वन विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुरूप 28 नए वाहनों के संचालन का अनुमोदन किया। समिति ने वाहनों के चयन में सावधानी बरतते हुए वाहनों का चयन पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर, एक परिवार के एक ही व्यक्ति को वाहन संचालन का परमिट, जिसके पास पहले से परमिट है, उसे परमिट न जारी करने के निर्देश दिये। समिति ने परमिट हस्तान्तरण की शक्ति आरटीओ को प्रदान की। अब वाहनों के परमिट आरटीओ स्तर से ही हस्तान्तरण हो सकेंगे।
बैठक में समिति सदस्य आरटीओ राजीव मेहरा, सदस्य दया किशोर जोशी, रवीन्द्र कनौजिया, आरएम यशपाल, एआरएम पवन मेहरा, टीटीओ कुलवन्त सिंह चैहान आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.