समारोह के दौरान सीडीओ व महाप्रबंधक

हल्द्वानी: बैंकों का किया सम्मान तो अफसरों का बढ़ा मान, स्वरोजगार योजनाओं में अधिक लोन देने वाले बैंक सम्मानित

उत्तराखण्ड कारोबार ताजा खबर नैनीताल योजनाएं

नैनीताल बैंक, बैंक आफ बड़ौदा व पीएनबी रहे प्रथम, द्वितीय व तीसरे स्थान पर
हल्द्वानी। जिला उद्योग केन्द्र के माध्यम से संचालित मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना और प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत अधिक स्वरोजगारियों को लोन देने वाले बैंकों का सम्मान किया गया। सीडीओ नरेन्द्र सिंह भंडारी ने बैंक अफसरों का उत्साहवर्धन भी किया। कहा कि बैंकों के समय पर लोन देने की वजह से ही जिले में सैकड़ों नई औद्योगिक इकाइयों की स्थापना हो पाई है।
गुरुवार को नैनीताल जिला सहकारी बैंक सभागार में आयोजित सम्मान समारोह के दौरान स्वरोजगारपरक योजनाओं में उद्योग विभाग की ओर से लोन वितरण के दिए लक्ष्य को पूरा करने वाले बैंकों को सम्मानित किया गया। इसके तहत संबंघित बैंक अधिकारियों को स्मृति चिह्न और प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। मुख्य विकास अधिकारी आईएएस नरेन्द्र सिंह भंडारी और जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक विपिन कुमार ने बैंक अधिकारियों को स्मृति चिह्न और प्रमाण पत्र प्रदान किए।
जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक विपिन कुमार ने बताया कि एमएसवाई व पीएमईजीपी में अच्छा कार्य करने पर नैनीताल बैंक प्रथम, बैंक आफ बड़ौदा दूसरे व पंजाब नेशनल बैंक तीसरे स्थान पर रहा। उन्होंने बताया कि निदेशालय से विभाग को दिए लक्ष्य के अनुरूप पीएमईजीपी में प्रदेश स्तर पर तीसरा और एमएसवाई में राज्य स्तर पर चैथा स्थान प्राप्त हुआ है। बताया कि लक्ष्य प्राप्ति में बैंकों का पूरा सहयोग तो रहा ही, साथ ही जिला प्रशासन और विभाग की पूरी टीम ने भी सहयोग दिया। बताया के लाकडाउन के बाद जनजीवन के पटरी में लाने के लिए भी पीएमईजीपी व एमएसवाई ने अच्छी भूमिका निभाई। इस दौरान लीड बैंक प्रबंधक एमएस जंगपांगी समेत तमाम बैंकों के अधिकारी मौजूद रहे।

इन बैंकों से जुड़े अधिकारी हुए सम्मानित
- द नैनीताल बैंक लिमिटेड, बैंक आफ बड़ौदा, पंजाब नेशनल बैंक, नैनीताल जिला सहकारी बैंक, उत्तराखंड ग्रामीण बैंक, भारतीय स्टेट बैंक आफ इंडिया, यूनियन बैंक आफ इंडिया, केनरा बैंक, इंडियन बैंक, यूको बैंक, सेन्ट्रल बैंक आफ इंडिया, दि. कुर्मांचल नगर सहकारी बैंक, बैंक आफ इंडिया, आईडीबीआई बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, पंजाब एण्ड सिन्ध बैंक।

Leave a Reply

Your email address will not be published.