कार्यशाला के दौरान मौजूद डीएम व विशेषज्ञ

उधमसिंहनगर में तैयार हस्तशिल्प उत्पादों को दिलाया जाएगा अंतर्राष्ट्रीय बाजार: खैरवाल

उत्तराखण्ड ऊधमसिंह नगर ताजा खबर

हस्तशिल्पियों को प्रोत्साहित करने के लिए कार्यशाला आयोजित
रुद्रपुर। जिला प्रशासन उधमसिंहनगर के सहयोग से हस्त शिल्प को बढावा देने व राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गठित स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा निर्मित सामान को बाजार उपलब्ध कराने के लिए जिलाधिकारी डा नीरज खैरवाल की अध्यक्षता मे एक स्थानीय होटल मे कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का शुभारम्भ जिलाधिकारी डाण् नीरज खैरवाल ने दीप प्रज्जवलन कर किया। जिलाधिकारी ने कहा प्रथम चरण में भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही श्यामा प्रसाद मुखर्जी ररबन मिशन के अन्तर्गत पहेनियां क्लस्टर के अन्तर्गत चयनित सात ग्रामों की महिलाओ द्वारा उत्पादित हस्तशिल्प को अन्तर्राष्ट्रीय बाजार मे पहचान देने के उद्देश्य से इस कार्यशाला का आयोजन किया गया है। उन्होंने कहा इसका श्रेय मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित व उनकी टीम को जाता है।

मील का पत्थर साबित होगी आज की आधारशिला: खैरवाल
रुद्रपुर। डीएम खैरवाल ने कहा कि आज जो आधारशिला रखी है यह मील का पत्थर साबित होगीए भविष्य मे इसके अच्छे परिणाम आयेंगे। उन्होंने कहा जब किसी कार्य की शुरूआत होती है तो उसमे लगातार सुधार होते जाते हैं। उन्होंने कहा इसे पायलट प्रोजेक्ट के रूप मे शुरू किया जा रहा है। पहेनिया के अलावा जनपद के अन्य स्थानों पर निर्मित होने वाले हस्त शिल्प को भी विशेषज्ञों की राय के अनुसार गुणवत्तायुक्त व अच्छे डिजाईन के साथ बनाकर बाजार उपलब्ध कराया जायेगा ताकि जनपद के अधिक से अधिक लोग स्वरोजगार से जुड सके।

मांग के अनुरूप तैयार किए जाएंगे हस्तशिल्प उत्पाद: दीक्षित
रुद्रपुर। मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित ने कहा कि बाजार की मांग के अनुसार यहां के हस्तशिल्प की गुणवत्ता व डिजाईनिंग तैयार कराने के लिए इस क्षेत्र के विशेषज्ञों से इस कार्य के लिए सहयोग लिया जा रहा है ताकि यहां के हस्तशिल्प को अच्छी पहचान मिल सके। उन्होने कहा इस कार्य के लिए डिजायनिंग आदि मे सुधार करने के लिए यदि मशीनों की आवश्यकता होगी तो उसमें भी विचार किया जायेगा। उन्होने कहा जो समूह इस कार्य मे रूची लेंगे विशेषज्ञो को उसी गांव मे भेजकर बाजार की मांग के अनुसार उनके उत्पादित सामान की गुणवत्ता व डिजाईनिंग मे सुधार किया जायेगा ताकि सामान को उचित बाजार मिल सके। कार्यशाला मे अरूप दत्ता ने कहा स्वयं सहायता समूहो की महिलाएं जो हस्त शिल्प बनाना जानती है वह हमारे लिए सीख है।

महिलाओं के सहयोग से उतारेंगे नए प्रोडक्ट: दुग्तल
कार्यशाला में फैब इन्डिया की दीर्घा दुग्तल ने कहा हम स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं के सहयोग से बाजार मे कुछ नये प्रोडक्ट तैयार कर उतारेंगे। एचडीएफसी बैंक के अजय बी चौधरी ने कहा एचडीएफसी बैंक हस्तशिल्प को बढावा देने के लिए ई.मार्केट पेलेस देगा ताकि यहां उत्पादित सामान को अन्तर्राष्ट्रीय मार्केट मिल सके। कार्यशाला में मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षितए अपर जिलाधिकारी जगदीश चन्द्र काण्डपालए परियोजना निदेशक डीआरडीए हिमांशु जोशीए डीडीओ अजय सिंहए महाप्रबन्धक उद्योग सीएस वोहराए सीएमओ डा. शैलजा भट्ट, डिप्टी सीएमओ डाण् उदयशंकरए मुख्य शिक्षा अधिकारी एके सिंहए जिला युवा कल्याण अधिकारी एमएस नागन्यालए केजीसीसीआई के प्रदेश अध्यक्ष अशोक बंसलए पहेनियां क्लस्टर की महिलाओं के साथ ही मार्केटिगए डिजायनिंग के विशेषज्ञ उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.