नई सड़क नहीं

ज्योलीकोट से खैरना तक बनेगी टू लेन सड़क, जाम से मिलेगी निजात

उत्तराखण्ड ताजा खबर देहरादून नैनीताल

हल्द्वानी। भवाली-अल्मोड़ा हाईवे पर कैंची धाम स्थित होने और अल्मोड़ा के प्रसिद्ध जागेश्वर धाम और अन्य पर्यटक स्थलों को जाने वालों की तादात लगातार बढ़ रही है। इससे इस मार्ग पर वाहनों का अत्यधिक दबाव है। इस मार्ग में आवाजाही करने वाले यात्रियों और सैलानियों को जाम से निजात दिलाने के लिए एनएच टू लेन सड़क बनाने की तैयारी कर रहा है। विभाग ज्योलीकोट से खैरना तक टू लेन सड़क के निर्माण कार्य के लिए 700 करोड़ की डीपीआर तैयार कर रहा है। डीपीआर तैयार होने के बाद विभाग भारत सरकार को डीपीआर भेजेगा।

 

भारत सरकार से धनराशि स्वीकृत होने के बाद टू लेन सड़क का निर्माण किया जाएगा। टू लेन सड़क बनने से अल्मोड़ा, रानीखेत, बागेश्वर, पिथौरागढ़, धारचूला, जागेश्वर, रानीखेत, कैंची धाम और कौसानी मार्ग पर यात्रा करने वाले यात्रियों और सैलानियों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। उक्त मार्ग पर रोजाना 10 हजार से अधिक वाहनों की आवाजाही होती है। एनएच के अधिशासी अभियंता प्रवीन कुमार ने बताया कि ज्योलीकोट से खैरना तक टू लेन सड़क के लिए 700 करोड़ की डीपीआर तैयार की जा रही है। उन्होंने कहा कि टू लेन सड़क बनने से यात्रियों को लाभ मिलेगा। कहा कि कैंची के पहले मोड़ से सड़क के नीचे मोड़ तक टनल बनाने और कैंची के पीछे की सड़क बनाने के साथ बाईपास के सुझाव भी दिए गए हैं, जो अभी शुरुआती चरण में हैं।

Follow us on WhatsApp Channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *