logo 26 मार्च से शुरू होगा ऐतिहासिक पूर्णागिरि मेला

26 मार्च से शुरू होगा ऐतिहासिक पूर्णागिरि मेला

उत्तराखण्ड कारोबार ताजा खबर देश/विदेश देहरादून नैनीताल विविध संस्कृति समाज

15 जून तक चलने वाले मेले की तैयारी में जुटा प्रशासन
टनकपुर। उत्तर भारत का प्रमुख मां पूर्णागिरि मेला 26 मार्च से शुरू होगा और 15 जून तक चलेगा। 82 दिन के मेले के लिए प्रशासन ने तैयारियां तेज कर दी हैं। डीएम नवनीत पांडेय ने जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी को मेला परिक्षेत्र, नगर पालिका टनकपुर और नगर पंचायत बनबसा को अपने-अपने क्षेत्रों में बिजली, पार्किंग और साफ-सफाई की पुख्ता व्यवस्था करने को कहा।

तहसील सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में डीएम ने बनबसा में भी 30 अस्थायी शौचालय, चेंजिंग रूम बनाने के निर्देश दिए। 24 घंटे नेटवर्क के लिए बीएसएनएल के अतिरिक्त टावर लगाने के निर्देश दिए। डीएम ने कहा कि सीसीटीवी, मार्ग में बिजली व्यवस्था, पेयजल, शौचालय, स्नानागार, आवास, स्वास्थ्य, संचार आदि की व्यवस्था अभी से तैयारी कर ली जाए। बैठक में पुलिस अधीक्षक अजय गणपति, विधायक प्रतिनिधि दीपक रजवार, सीओ शिवराज सिंह राणा, मंदिर समिति के सदस्य, टैक्सी समिति के सदस्य और कई विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

ड्रेस कोड में रहेंगे पार्किंग के कर्मी
टनकपुर। मेला क्षेत्र में पार्किंग के ठेकेदार के कर्मी ड्रेस कोड में रहेंगे, इससे उनको पहचाना जाएगा। जिलाधिकारी ने स्पष्ट किया कि किसी भी सरकारी कर्मचारी के साथ दादा गिरी नहीं चलेगी, सरकारी कर्मचारी से बदतमीजी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उसे बंद कराया जाएगा।

रोडवेज की 25 बसें होंगी संचालित
टनकपुर। मेले के दौरान टनकपुर से बरेली के लिए संचालित सभी समेत कुल 25 बसों को ठूलीगाड़ से संचालित किया जाएगा। इससे श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा मिलेगी। जिलाधिकारी ने आरएम पवन मेहरा को बेहतर सुविधा के निर्देश दिए। आरएम मेहरा ने बताया कि पूरी कोशिश रहेगी कि श्रद्धालुओं की संख्या को देखते हुए बेहतर संचालन रहे। किराया अभी निर्धारित नहीं किया है, जो करीब 35 रूपये के करीब हो सकता है।

Follow us on WhatsApp Channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *