kumaon jansandesh.com

घर वापसी पर प्रवासियों के चेहरे पर दिखी खुशी की चमक, सरकार-प्रशासन का जताया आभार

उत्तराखण्ड ताजा खबर देश/विदेश नैनीताल

यात्रियों के पहुंचने पर डीएम बंसल, एसएसपी मीणा, सीडीओ विनीत कुमार ने किया स्वागत
कुमाऊं जनसन्देश डेस्क
हल्द्वानी। उत्तराखण्ड सरकार के विशेष प्रयासों से कुमाऊं मंडल के कोविड-19 लाॅकडाउन के कारण फंसे 1200 यात्रियों को सूरत गुजरात से लेकर एक विशेष ट्रेन सोमवार रात्रि 11ः30 बजे काठगोदाम पहंुची। ट्रेन पहुंचने पर जिलाधिकारी सविन बंसल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार मीणा, मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार तथा अन्य प्रशासनिक अधिकारियोें ने उत्तराखण्ड के प्रवासियों का स्वागत किया। आने वाले यात्रियों का मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिह रावत की ओर से जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, प्रदेश प्रवक्ता प्रकाश रावत तथा संगठन के वरिष्ठ कार्यकर्ताआंे द्वारा स्वागत किया गया। अपने घर वापसी होने पर आने वाले यात्रियों के चेहरे पर आत्मसंतोष देखा गया कई यात्रियों की आंखों में खुशी भी देखी गई।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मीणा ने यात्रियों की लाइन लगवाकर तथा सोशल डिस्टेंस मेटेंन करवाया। वांछित व्यवस्थाओें मंे रेलवे अधिकारियांे ने पूरा सहयोग किया। टेªन से आने वाले यात्रियों को कुमाऊं मण्डल के विभिन्न जनपदों में बसों के माध्यम से भेजे जाने के लिए जिलाधिकारी सविन बंसल द्वारा सभी व्यवस्थायें सुनिश्चित कि गई।
सूरत से विशेष टेªन द्वारा 1200 यात्रियों जिसमे से अल्मोड़ा जनपद के 123 ,बागेश्वर के 291, चम्पांवत के 06, पिथौरागढ के 254, उधमसिंह नगर के 16 व नैनीताल जनपद 510 यात्रियों को सकुशल लेकर रेलवे स्टेशन काठगोदाम पहुंची। जहंा से आगन्तुक यात्रियों को बसों के माध्यम से कुमांऊ के विभिन्न जनपदों में भेजा जायेगा। जिलाधिकारी बंसल ने यात्रियों को उनके जनपदों में भेजने के लिए परिवहन निगम की 46 छोटी तथा बड़ी बसंे लगाई हैं।
रेलवे स्टेशन काठगोदाम से पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा, चम्पावत, उधमसिंह नगर के यात्रियों को बसों के माध्यम से अन्तर राष्ट्रीय स्टेडियम गौलापार ले जाया गया, जहां पर स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा यात्रियों की थर्मल स्केनिंग तथा स्वास्थ्य परीक्षण किया गया तथा भोजन, पानी तथा जूस भी स्टेशन पर उपलब्ध कराया गया व रहने आदि की व्यवस्था गौलापार स्टेडियम में की गई।
इस मौके पर जिलाध्यक्ष भाजपा प्रदीप बिष्ट, प्रदेश प्रवक्ता प्रकाश रावत, कमल मुनी, संजय दुम्का, राजेन्द्र अग्रवाल, प्रिन्स भारद्वाज, भूपेंन्द्र जोेशी, प्रदीप जनौटी, योगेश रजवार, नवीन पंत, लक्ष्मण सिंह, दीपक जोशी के अलावा अपर जिलाधिकारी कैलाश टोलिया, सिटी मजिस्टेट प्रत्यूष सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक अमित श्रीवास्तव, उपजिलाधिकारी विवेक राय, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. भारती राणा, क्षेत्रीय प्रबन्धक रोडवेज यशपाल सिंह, एसीएमओ डा. रश्मि पंत, डा. तरूण कुमार टम्टा, अधीक्षण अभियन्ता लोनिवि रणजीत सिंह रावत, अधिशासी अभियन्ता एचएस.रावत, विशाल सक्सेना जल संस्थान स्टेशन, मास्टर काठगोदाम चयन राय आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.