कार्यक्रम के दौरान मंचासीन अधिकारी

खाद्य प्रसंस्करण उद्योग लगाने को किया जागरूक

उत्तराखण्ड ताजा खबर नैनीताल

कार्यशाला के दौरान दी योजनाओं की जानकारी
रामनगर। खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में स्वरोजगार की अपार संभावनाएं हैं। बशर्ते उद्यमियों को इससे जुड़ी विभागीय योजनाओं और प्रशिक्षण कार्यक्रमों की जानकारी हो। अच्छा उद्यम स्थापित करने के लिए उद्यमी को व्यवहारिक ज्ञान भी हो जिससे कि आने वाली चुनौतियों का डटकर मुकाबला किया जा सके। यह बात अधिकारियों ने खाद्य प्रसंस्करण को लेकर आयोजित कार्यशाला में महिलाओं, किसानों व उद्यमियों को सम्बोधित करते हुए कही। खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों को प्रोत्साहित करने व रोजगार के अवसर सृजन करने के मकसद से विकास खंड सभागार में एक दिवसीय जागरूकता अभिप्रेरण शिविर का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में मौजूद महिलाएं
कार्यक्रम में मौजूद महिलाएं

कार्यक्रम में विभिन्न विभागो के अधिकारियांे एवं प्रतिनिधियो ने खाद्य प्रसंस्करण उद्योग से जुड़ी योजना, बागवानी वोर्ड, बागवानी मिशन, एमएसएमइ नीति 2015, औद्योगिक विकास योजना 2017, महिला विशेष प्रोत्साहन योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना, मुद्रा योजना, स्टेंडअप, स्टार्टअप, खाद्य सुरक्षा, जीएसटी, कर्मचारी बीमा योजना, डेरी के साथ-साथ अन्य स्वरोजगार परक योजनाओ की जानकारी देने के साथ ही इनका लाभ उठाने का आहवान किया गया। कार्यक्रम में महाप्रबंधक उद्योग योगेश चंद्र पांडे, मुख्य उद्यान अधिकारी भावना जोशी, व्यापार कर अधिकारी मौ यासिर, संतोषी, बीडीओ मनमोहन सिंह रावत, ओपी भटट, कमल जोशी, अर्जुन सिंह परवाल के अलावा कृषक एवं स्वयं सहायता समूह की महिलाऐं मौजूद रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published.