कार्यक्रम के दौरान मौजूद, सीडीओ, जीएम व अन्य

खुद बनें मालिक औरों को भी दें रोजगार, स्टार्टअप का उठाएं लाभ: सीडीओ

उत्तराखण्ड ऊधमसिंह नगर ताजा खबर

रुद्रपुर। मुख्य विकास अधिकारी आलोक कुमार पांडेय ने कहा कि युवाओं को नौकरी की टेंशन बिल्कुल छोड1 देनी चाहिए। उमंग, उत्साह के साथ बाजार का अध्ययन कर स्वयं का कारोबार स्थपित कर और लोगों को भी रोजगार से जोड़ना चाहिए। इसके लिए स्टार्ट अप सहित अन्य योजनाओं का लाभ उठा आत्मनिर्भर बना जा सकता है। सीडीओ पांडेय ने यह विचार सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय भारत सरकार व उत्तराखण्ड सरकार द्वारा आयोजित 30 जनवरी तक आयोजित होने वाले एमएसएमई पखवाड़े के शुभारंभ अवसर पर जिला उद्योग केन्द्र सभागार में कार्यक्रम के दौरान कही।
उन्होंने कहा कि तकनीकि के दौर में नए-नए रोजगार के साधनों का सृजन हो रहा है। कहा कि युवाओं को नौकरी के लिए परेशान नहीं होना चाहिए बल्कि बाजार का अध्ययन करते हुए सकारात्मक सोच, नई ऊर्जा व उमंग के साथ उद्यमिता विकास के लिए सरकार द्वारा स्टार्ट अप सहित चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं का लाभ उठाकर स्वयं का कारोबार स्थापित करने पर विशेष ध्यान देना चाहित। उन्होंने कहा कि हमारी सोच नौकरी के स्थान पर मालिक बनकर दूसरों को नौकरी देने की होनी चाहिए। कहा कि नया काम शुरू करने के दौरान दिक्कतें जरूर आती हैं मगर एक बार काम जम जाने के बाद अपने पर आत्मविश्वास भी बढ़ता है। एमएसएमई के निदेशक वीके शर्मा ने बताया कि नए उद्योगों की स्थापना के लिए उद्यमियों को अनुकूल वातावरण स्थापित करना, विभिन्न योजनाओं के माध्यम से लाभांवित करते हुए उद्योगों का बढ़ावा देना व रोजगार के नये अवसर पैदा करना ही सरकार का मुख्य उद्देश्य है। उद्योग विभाग महाप्रबंधक सीएस बोहरा ने विभागीय योजनाओं की जानकारी दी और स्वरोजगार के फायदे गिनाए।
प्रशिक्षक सीए अमित अरोरा व हैमन्त सिंघल ने उद्यमियों को जीएसटी रजिस्ट्रेशन, ई-वे बिल, रिटर्न फाईल करना, जीएसटी के लाभ व नियम, बेसिक जानकारी दी ओर उद्यमियों की जिज्ञासाओं का भी समाधान किया गया। इस अवसर पर उद्योग विभाग प्रबंधक सुनील पंत, मुनीष त्यागी, प्रवीण कुमार सहित उद्यमी/प्रशिक्षणार्थी आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.