अधिकारियों से चर्चा करतीं प्रमुख सचिव उद्योग मनीषा पंवार

देहरादून के हिमाद्री इम्पोरियम में भी मिलेंगे अब अल्मोड़ा की रिवर व्यू फैक्ट्री के उत्पाद

अल्मोड़ा उत्तराखण्ड ताजा खबर

प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास एवं उद्योग मनीषा पंवार को पसंद आए फैक्ट्री के उत्पाद
अल्मोड़ा। अल्मोड़ा स्थित रिवर व्यू फैक्ट्री में तैयार किए जा रहे हैण्डीक्राफ्ट व हैण्डलूम उत्पादरें की बिक्री बढ़ाने के लिए राज्य सरकार प्रयास कर रही है। अब इस फैक्ट्री के उत्पादों की बिक्री बढ़ाने के लिए इन्हें देहरादून स्थित हिमाद्री इम्पोरियम में भी रखा जाएगा। साथ ही अधिकाधिक लोगोें को यहां बनाए जा रहे गुणवत्तायुक्त हैंडलूम व हैंडीक्राफ्ट उत्पाद आसानी से मिल सकें, इसके लिए आनलाइन मार्केटिंग का भी सहारा लिया जाएगा।

ग्रोथ सेंटर के रूप में विकसित होगी रिवर व्यू फैक्ट्री: मनीषा
अल्मोड़ा। गुरुवार को प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास एवं उद्योग मनीषा पंवार ने जनपद भ्रमण के दौरान आज प्राचीनतम रिवर व्यू फैक्ट्री का भ्रमण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि रिवर व्यू फैक्ट्री जो काफी पुरानी है उसे अधिक उपयोगी बनाने के लिए शासन द्वारा ग्रोथ सेन्टर के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया गया है। इस दौरान उन्होंने रिवर व्यू फैक्ट्री में स्थित शोरूम का भी भ्रमण किया। वहाॅ बनाये जा रहे शाॅल, स्वेटर, जैकेट, मफलर, कोट इत्यादि को देखकर उन्होंने उत्पादों की प्रशंसा करते हुए कहा कि इन उत्पादों के लिए मार्केट उपलब्ध कराया जायेगा। साथ ही रिवर व्यू फैक्ट्री में तैयार किए जा रहे उत्पादों को देहरादून स्थित हिमाद्री इम्पोरियम में भी इन्हें रखा जायेगा ताकि अधिकाधिक लोग इन उत्पादों को खरीद सकें। प्रमुख सचिव ने कहा कि रिवर व्यू फैक्ट्री को हैण्डीक्राफ्ट व हैण्डलूम कलस्टर के रूप में विकसित किया जायेगा।

रिवर व्यू फैक्ट्री के उत्पाद देखतीं मनीषा पंवार
रिवर व्यू फैक्ट्री के उत्पाद देखतीं मनीषा पंवार

खादी ग्रामोद्योग के उत्पादों के प्रचार पर जोर
उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देश दिये कि नगर में भी खादी ग्रामोद्योग के उत्पादों के लिए उचित स्थान व एक सैम्पल बुक बनाकर उत्पादों का अधिकाधिक प्रचार-प्रसार करें। इसके अलावा उन्होंने कहा कि यहाॅ तैयार किये जा रहे उत्पादों की गुणवत्ता काफी अच्छी है इसके लिए बड़े संस्थानों से वार्ता कर इन उत्पादों के लिए मार्केट उपलब्ध कराया जा सकता है ताकि अन्य जगहो में खादी-ऊन के उत्पादों की पहचान बन सके। इसके साथ आन लाईन मार्केटिंग कर इस संस्थान की आय बढ़ायी जा सकती है। भ्रमण के दौरान उन्होंने परिसर में चल रहे निर्माण कार्य का भी अवलोकन किया और कहा कि जो भवन उपयोग में नहीं है और जीर्ण-शीर्ण अवस्था में है जिलाधिकारी उन सभी भवनों का अपने स्तर से प्रस्ताव तैयार कराते हुए शासन को प्रेषित करें ताकि उनका जीर्णोद्धार कराया जा सके। उन्होंने निर्देश दिये कि परिसर में खराब पड़े सामान व पूरे परिसर के मरम्मत हेतु आगणन व प्रस्ताव तैयार कर प्रेषित किया जाय ताकि शासन से उसे स्वीकृति दिलायी जा सके।

सचिवालय में रखवाए जाएंगे ‘‘हो दाज्यू‘‘ कैफे के उत्पाद
अल्मोड़ा। इसके बाद प्रमुख सचिव ने आजीविका परियोजना द्वारा रघुनाथ सिटी माॅल में संचालित हो रहे ‘‘हो दाज्यू‘‘ कैफे का भी भ्रमण किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में महिला स्वयं सहायता समूहों द्वारा किसी माॅल में संचालित यह पहला कैफे है यहाॅ के उत्पाद की गुणवत्ता उच्चकोटी की है। उन्होंने कहा कि इस तरह के प्रयोग महिलाओं को आजीविका बढ़ाने में सहयोग प्रदान करेंगे। प्रमुख सचिव ने कहा कि देहरादून स्थित सचिवालय में इन उत्पादों को लिया जायेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पदार्थों की पैकेजिंग में ध्यान देने की जरूरत है ताकि अधिक से अधिक ग्राहक इसे खरीद सकें। इस अवसर पर अपर सचिव ग्राम्य विकास डा. राम विलास यादव, जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया, मुख्य विकास अधिकारी मनुज गोयल, उप निदेशक खादी ग्रामोद्योग शैली डबराल, परियोजना निदेशक नरेश कुमार, राज्य समन्वयक मनरेगा मोहम्मद असलम, परियोजना प्रबन्धक आजीविका कैलाश भट्ट, महाप्रबन्धक उद्योग डा. दीपक मुरारी, सहायक परियोजना निदेशक मनविन्दर कौर, खादी ग्रामोद्योग अधिकारी बीसी बुधानी, अधीक्षक रिवर व्यू फैक्ट्री मनोज तिवारी के अलावा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.