जिला महाप्रबंधक डीआईसी सीएस बोहरा

किसानों की आय बढ़ाने में उद्योग विभाग बनेगा मददगार, 27 जनवरी को पंत विवि में होगा व्यापक विचार

उत्तराखण्ड ऊधमसिंह नगर ताजा खबर

रुद्रपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के किसानों की आय दोगुनी करने के इरादे को धरातल में उतारने के लिए उत्तराखंड का उद्योग विभाग कसरत में जुट गया है। प्र्रधानमंत्री किसान सम्पदा योजना के तहत खाद्य प्रसंस्करण के जरिये किसानों की आय बढ़ाई जाएगी। उद्योग विभाग निदेशक सुधीर चंद्र नौटियाल के निर्देश पर उधमसिंहनगर जिला उद्योग केंद्र 27 जनवरी को पंत विवि सभागार, पंतनगर मेें होने वाले किसान व वैज्ञानिक संवाद को सफल बनाने में लगा हुआ है। कार्यक्रम में पंत विवि कुलपति डा. एके मिश्रा, उद्योग विभाग निदेशक सुधीर चंद्र नौटियाल, उधमसिंहनगर सीडीओ आलोक कुमार पांडेय सहित कुमाऊं गढ़वाल चैंबर आफ कामर्स व सिडकुल इंटरप्रिन्योर वेलफेयर सोसायटी से जुड़े पदाधिकारी, किसान व वैज्ञानिक भाग लेंगे।
उधमसिंहनगर जिला उद्योग केंद्र के जिला महाप्रबंधक चंचल सिंह बोहरा ने बताया कि खाद्य प्रसंस्करण किसानों की आय बढ़ाने में मील का पत्थर साबित होगा। जानकारी के अभाव में फिलहाल कम ही किसान इस कार्य से जुड़े हुए हैं। बताया कि हर वर्ष पूरे देश में करीब 92 हजार करोड़ की खाद्य सामग्री बर्बाद हो जाती है। जबकि खाद्य प्रसंस्करण के जरिए फल, सब्जी व अनाज को बाद में प्रयोग करने के लिए संरक्षित किया जा सकता है। इसके लिए खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों की स्थापना की जाती है। बताया कि जिले में करीब सौ खाद्य प्रसंस्करण इकाइयां स्थापित हैं। इनकी संख्या बढ़ाने, स्थानीय स्तर पर रोजगार के नए अवसर पैदा कर किसानों की आय दोगुनी करने के साथ ही फल, सब्जी व अनाज की बर्बादी रोकने के लिए ही प्रधानमंत्री किसान सम्पदा योजना देश में लागू की गई है। इसके लिए छह सौ करोड़ रुपये का आवंटन भी कर दिया गया है। महाप्रबंधक बोहरा ने बताया कि 27 जनवरी को पंत विवि सभागार में आयोजित किसान-वैज्ञानिक संवाद कार्यक्रम में कुलपति डा. एके मिश्रा और उद्योग विभाग निदेशक सुधीर चंद्र नौटियाल सहित तमाम वैज्ञानिक और विशेषज्ञ खाद्य प्रसंस्करण के फायदे, इकाई स्थापित करने और रोजगार के अवसरों पर विस्तार से चर्चा के साथ ही व्यापक मंथन भी करेंगे। बताया कि कार्यक्रम को सफल बनाने की तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं। उद्योग विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में पंत विवि भी सहयोग कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.