प्रकाश डिफेंस एकेडमी ने लगाए योगेश के सपनों को पंख

रानीखेत के गरीब मेधावी योगेश जोशी का नेवी एसएसआर में चयन
हल्द्वानी। समय रहते सही मागदर्शन मिल जाए तो मंजिल तक पहुंचने का रास्ता आसान हो जाता है। प्रकाश डिफेंस एकेडमी में कुछ माह की कोचिंग लेकर रानीखेत के गरीब घर के मेधावी योगेश जोशी ने मंजिल पा ली है। एकेडमी की ओर से उन्हें निशुल्क कोचिंग के साथ रहने की सुविधा प्रदान की। अब उनका चयन नेवी एसएसआर चेन्नई के लिए हो गया है। चयन के लिए योगेश ने एकेडमी के डायरेक्टर कैप्टन पीसी जोशी समेत पूरे स्टाफ का आभार जताया है।
यहां बता दें कि तल्ला बिसवा, गनिया दौली, रानीखेत निवासी योगेश जोशी बचपन से ही होनहार रहे हैं। इंटर की परीक्षा उन्होंने 78 प्रतिशत अंकों के साथ रानीखेत मिशन इंटर कालेज से पूरी की। मगर गरीब घर से होने के कारण आगे पढ़ाई और महंगी कोचिंग का खर्च उठाना परिवार के लिए आसान नहीं था। कहते हैं कि मन में ललक और कुछ करने का जज्बा हो तो कोई न कोई राह निकल ही आती है। ऐसे में जब हल्द्वानी दुर्गा सिटी सेंटर स्थित प्रकाश डिफेंस एकेडमी के डायरेक्टर कैप्टन पीसी जोशी व शेखर जोशी को यह बात मालूम चली कि पहाड़ का एक मेधावी बच्चा महज गरीबी के कारण आगे की पढ़ाई के लिए संघर्ष कर रहा है तो उन्होंने उसे निशुल्क कोचिंग दिलाने की जिम्मेदारी ली। अब नतीजा सामने है। महज सात-आठ महीने की कोचिंग के दौरान योगेश जोशी ने मन लगाकर पढ़ाई की प्रशिक्षकों ने भी पढ़ाई के लिए प्रेरित किया। इसी दौरान उन्होेंने नेवी का फार्म भरा। अप्रैल में परीक्षा दी और जून आखिर में उसका चयन नेवी एसएसआर में हो गया है। उसे 18 अगस्त को चेन्नई में नियुक्ति मिल जाएगी। नेवी में चयन हो जाने से योगेश के साथ ही उसका पूरा परिवार बेहद उत्साहित है और उन्होंने प्रकाश डिफेंस एकेडमी के पूरे स्टाफ का आभार जताया है।
इधर एकेडमी के डायरेक्टर कैप्टन पीसी जोशी ने बताया कि एकेडमी में एनडीए, सीडीएस, आर्मी, एअर फोर्स, नैवी, एसएससी जीडी, सीजीएल, सीपीओ, एसआई आदि की कोचिंग दी जाती हैं। बताया कि इस बात कहा भी ख्याल रखा जाता है कि कोई मेधावी बच्चा सिर्फ गरीबी की वजह से पढ़ाई से वंचित तो नहीं हो रहा है। ऐसे में उन्हें रियायती दरों में कोचिंग कराई जाती हैं। अत्यंत गरीब मगर मेधावी होने पर निशुल्क भी कोचिंग दी जाती है। बताया कि योगेश के चयन के बाद तमाम लोगों के बधाई संदेश आ रहे हैं जिससे हमें भी अपने मकसद पर खरा उतरने की खुशी महसूस हो रही है।

ad
ad

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.