पिथौरागढ़: खेलते वक्त भकार में बंद हो गए तीन बच्चे, दम घुटने से तीनों की मौत

खेलने के दौरान बंद हो गया था लकड़ी का बक्शा
पिथौरागढ़। खेलने के दौरान तीन बच्चे लकड़ी के बक्से यानी भकार में बंद हो गये। घुटन के चलते तीनों की मौत हो गई। यह दुखद घटना धारचूला के खुमती गांव में घटित हुई है। तीन बच्चों की मौत से क्षेत्र में शोक छा गया है।
जानकारी के अनुसार खुमती गांव निवासी सुरेंद्र सिंह पुत्र खुशाल सिंह पत्नी के साथ जंगल गया था। उनके तीन बच्चे दादा-दादी के साथ घर पर थे। इसके बाद दादी-दादी भी किसी काम से घर से बाहर चले। इस दौरान तीनों बच्चे निशा (10 वर्ष), सपना (7 वर्ष) और कार्तिक (5 वर्ष) अकेले घर पर खेल रहे थे। खेलते-खेलते वे तीनों वहां रखे बक्से के अंदर चले गए और बक्से का दरवाजा बंद हो गया। वे तीनों बक्से का दरवाजा नहीं खोल पाए और दम घुटने से उनकी मौत हो गई। इधर जब दादा-दादी घर लौटे तो वेे बच्चों को ढूंढ़ते रहे लेकिन वो नहीं मिले। सभी पूरी रात बच्चों को इधर उधर ढूंढ़ते रहे, तभी उनकी नजर बक्से पर पड़ी। जब उन्होंने बक्से को खोला तो तीनों बच्चों का शव देख उनका कलेजा मुंह को आ गया। दम घुटने से तीनों की मौत हो चुकी थी। बच्चों की मौत से क्षेत्र में कोहराम मचा हुआ है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.