गर गरीब परिवार से हैं आप, तो आईएएस व आईएफएस बनने का सपना पूरा करेगी सरकार

गरीब मेधावी बच्चों के लिए राज्य में शुरू की जा रही हैं 30 सुपर क्लासेज
इंटरनेट से आपस में जोड़े जाएंगे प्रदेशभर के डिग्री कालेज: रावत
अल्मोड़ा। राज्य सरकार सुपर क्लास का संचालन कर तीन लाख से कम वार्षिक आय वाले गरीब मेधावी बच्चों को एनडीए, पीएचडी, आईएएस व आईएफएस बनाने के लिए तैयार करेगी। इसके लिए राज्य में 30 सुपर क्लासेज शुरू की जा रही हैं। यह जानकारी शुक्रवार को उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डा. धन सिंह रावत ने महाविद्यालय सोमेश्वर के वार्षिकोत्सव में शौर्य दीवार का लोकार्पण के दौरान दी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी महाविद्यालयों में प्राचार्यों की नियुक्ति को प्राथमिकता देते हुये सभी पद भरे गये हैं।
डा. रावत ने कहा कि सोमेश्वर महाविद्यालय का भवन पांच करोड़ की लागत से बनाया गया है अभी भी प्रदेश में 24 ऐसे महाविद्यालय है जिनके पास अपनी भूमि नहीं है इसके लिये एक साल के अन्दर भूमि उपलब्ध करायी जायेगी। उन्होंने बताया कि वर्तमान वित्तीय वर्ष में इसके लिये एक हजार करोड़ रूपया स्वीकृत किया गया है।
डा. रावत ने बताया कि राज्य में सुपर 30 क्लासें शुरू की जा रही हैं। इसमें उन गरीब विद्यार्थियों को शिक्षा दी जायेगी जिनके परिवार की आय तीन लाख रुपये वार्षिक से कम हो। इस योजना में 150 छात्र-छात्राओं को एनडीए, 100 को पीएचडी एवं 50 को आईएएस व आईएफएस बनाने के लिये शिक्षा देकर तैयार किया जायेगा। उन्होंने बताया कि प्रत्येक महाविद्यालय को 70 लाख रूपया आवंटित किया गया है, जिसके तहत महाविद्यालय में शौचालय, क्रीड़ा स्थल व पेयजल की सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी साथ ही सभी महाविद्यालयों को आपस में नेटवर्क से जोड़ा जायेगा।
इस अवसर पर छात्र संघ अध्यक्ष दीपा जोशी ने एक मांग पत्र रखते हुये विद्यालय की अनेक समस्याओं यथा पेयजल समस्या का निराकरण, विभिन्न विषयों को खोलने सहित अन्य मांगों से अवगत कराया। इस कार्यक्रम में अपर जिलाधिकारी केएस टोलिया, तहसीलदार खुशबू आर्या, भाजपा जिला अध्यक्ष गोविन्द सिंह पिल्खवाल, मोहन सिंह दोसाद, महाविद्यालय की प्राचार्य डा. अर्चना साह, बलदेव राम, ज्योति टम्टा, रशमी आर्या, किरन पंत, ललित मोहन जोशी, रविन्द्र कुमार, प्रखर बिष्ट सहित अनेक उपस्थित थे। संचालन बलदेव राम व सीपी वर्मा ने किया।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.