अलर्ट: जहां डयूटी वहीं रहना भी होगा, वरना नहीं मिलेगा वेतन, नौकरी पड़ेगी खतरे में

छोड़नी होगी देर से आने और जल्द घर जाने की परिपाटी: कमिश्नर
नैनीताल। सरकारी विभागों में तैनात अधिकारियों व कर्मचारियों को अब तैनाती स्थल के पास रहना होगा। यदि वे तैनाती स्थल पर रहते नहीं मिले तो उनका वेतन रोक लिया जाएगा। आयुक्त ने अधिकारी कर्मचारियों की देर से आने और जल्द घर जाने की कार्यशैली पर पाबंदी लगाने की दिशा में कार्रवाई शुरू कर दी है। कुमाऊं कमिश्नर राजीव रौतेला कहा है कि उनके संज्ञान मे आया है कि अधिकारी व कर्मचारी अपने तैनाती स्थल पर नहीं रह रहे हंै। इससे शासकीय कार्य प्रभावित हो रहे हंै तथा ऐसे लोग विलम्ब से अपने कार्यालय में भी पहंुच रहे हैं। वहीं अपने घर जाने के लिए समय से पूर्व कार्यालय भी छोड़ दे रहे हैं। उन्हांेेने कहा कि यह अत्यन्त गम्भीर एवं अनुशासनहीनता का परिचायक है।
आयुक्त ने मण्डल के सभी जिलाधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह इस बात को सुनिश्चित कराये कि सभी अधिकारी व कर्मचारी मुख्यालय अथवा अपने तैनाती स्थल पर रहे इसके साथ ही अधिकारियांे व कर्मचारियों से लिखित में उनके प्रवास का पता प्राप्त करें तथा उसका सत्यापन भी करा लें। बावजूद इसके यदि अधिकारी व कर्मचारी मुख्यालय या अपने तैनाती स्थल पर रहते हुये नहीं पाया जाता है तो उसका तत्काल वेतन रोकते हुये अन्य अनुशासनात्मक कार्रवाई सुनिश्चित करें। रौतेला ने विगत दिनों भीमताल मे अपने निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार को निर्देश दिये कि वह इस बात को सुनिश्चित करायें कि अधिकारी व कर्मचारी अपने तैनाती भीमताल में तथा खण्ड विकास अधिकारी व विकास खण्ड के सभी कर्मचारी अनिवार्य रूप से विकास खण्ड मुख्यालय पर प्रवास करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जल्द ही अधिकारियों व कर्मचारियों की उपस्थित भी जांची जायेगी।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.